Question
In _____ government each adult citizen must have one vote and each vote must have one value.
_____ सरकार में प्रत्येक वयस्क नागरिक के पास एक वोट होना चाहिए और प्रत्येक वोट का एक मूल्य होना चाहिए।
A.
B.
C.
D.
Answer
A.In democratic government each adult citizen must have one vote and each vote must have one value. So the correct answer is option A.
A.लोकतांत्रिक सरकार में प्रत्येक वयस्क नागरिक के पास एक वोट होना चाहिए और प्रत्येक वोट का एक मूल्य होना चाहिए। इसलिए सही उत्तर विकल्प A है।

View Similar questions (संबन्धित प्रश्न देखें)

Question
Which was the first Indian state to adopt Panchayat Raj system?
पंचायत राज्य व्यवस्था को अपनाने वाला पहला भारतीय राज्य कौन सा था?
A.
B.
C.
D.
Answer
C.Rajasthan was the first Indian state to adopt the Panchayat Raj system. For the first time in modern India, the Panchayati Raj system was implemented on 2 October 1959 in Nagaur district of Rajasthan by the then Prime Minister Jawaharlal Nehru. There are three Panchayati Raj Institutions- (1) Gram Panchayat at the village level (2) Panchayat Samiti at the block (taluka) level (3) Panchayat Samiti at the district level The work of these institutions is to make economic development, strengthen social justice and implement the schemes of the state government and the central government, in which there are 29 subjects mentioned in the 11th schedule. Lord Ripon is considered the father of local self-government in India during the British rule in India. In the year 1882, he proposed local self-government. Under the Government of India Act of 1919, the dual government was arranged in the provinces and local self-government was placed on the list of transferred subjects. So the correct answer is option C.
C.राजस्थान पंचायत राज व्यवस्था को अपनाने वाला पहला भारतीय राज्य था। आधुनिक भारत में पहली बार पंचायती राज व्यवस्था 2 अक्टूबर 1959 को राजस्थान के नागौर जिले में तत्कालीन प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा लागू की गई थी। पंचायती राज संस्थाएँ तीन हैं- (1) ग्राम स्तर पर ग्राम पंचायत (2) ब्लॉक (तालुका) स्तर पर पंचायत समिति (3) जिला स्तर पर पंचायत समिति इन संस्थाओं का काम आर्थिक विकास करना, सामाजिक न्याय को मजबूत करना और राज्य सरकार और केंद्र सरकार की योजनाओं को लागू करना है, जिसमें 11वीं अनुसूची में 29 विषयों का उल्लेख है। भारत में ब्रिटिश शासन के दौरान लॉर्ड रिपन को भारत में स्थानीय स्वशासन का जनक माना जाता है। वर्ष 1882 में उन्होंने स्थानीय स्वशासन का प्रस्ताव रखा। 1919 के भारत शासन अधिनियम के तहत, प्रांतों में दोहरी सरकार की व्यवस्था की गई और स्थानीय स्वशासन को स्थानांतरित विषयों की सूची में रखा गया। इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।
Question
How many fundamental duties are noted in the Constitution of India?
भारत के संविधान में कितने मौलिक कर्तव्यों का उल्लेख किया गया है?
A.
B.
C.
D.
Answer
B.There are 11 fundamental duties are noted in the Constitution of India. The 11th was added in 86th Amendment act, 2002 and it gives Right to Education. It says the every child should get compulsory education between the age of 6 to 14 years. So the correct answer is option B.
B.भारत के संविधान में 11 मौलिक कर्तव्यों का उल्लेख किया गया है। 86 वें संशोधन अधिनियम, 2002 में 11 वाँ जोड़ा गया, जो शिक्षा का अधिकार देता है। इसमें कहा गया है कि प्रत्येक बच्चे को अनिवार्य शिक्षा 6 से 14 वर्ष की उम्र में मिलनी चाहिए। इसलिए सही उत्तर विकल्प B है।
Question
In which Part of the Constitution of India we find the provisions relating to citizenship?
भारत के संविधान के किस भाग में हमें नागरिकता से संबंधित प्रावधान मिलते हैं?
A.
B.
C.
D.
Answer
B.The provisions relating to citizenship is in the II part of Indian Constitution. Part I- The Union and its Territories Part III- The fundamental rights of people Part IV- Directive Principles of State Policy (DPSP) Part IV A-Fundamental Duties Part V- The Union Government Part VI- The state Government Part VIII-The Union Territories Part IX-The Panchayats Part X-The Scheduled and Tribal Areas Part XI-Relations between the Union and the States Part XII- Finance, Property Part XIII- Trade, Commerce and Intercourse within the Territory of India Part XV- Elections Part XVII- Official Language So the correct answer is option B.
B.नागरिकता से संबंधित प्रावधान भारतीय संविधान के द्वितीय भाग में हैं। भाग I- संघ और उसके क्षेत्र भाग III- लोगों के मौलिक अधिकार भाग IV- राज्य नीति के प्रत्यक्ष सिद्धांत (DPSP) भाग IV A -मौलिक कर्तव्य भाग V- केंद्र सरकार भाग VI- राज्य सरकार भाग VIII- केंद्र शासित प्रदेश भाग IX- पंचायतें भाग X- अनुसूचित और जनजातीय क्षेत्र भाग XI- संघ और राज्यों के बीच संबंध भाग XII- वित्त, संपत्ति भाग XIII- भारत के क्षेत्र के भीतर व्यापार, वाणिज्य और संभोग भाग XV- चुनाव भाग XVII- आधिकारिक भाषा इसलिए सही उत्तर विकल्प B है।
Question
How many types of justice, liberty, equality and fraternity in that order has been mentioned in the preamble of constitution of India?
भारत के संविधान की प्रस्तावना में कितने प्रकार के न्याय, स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व का उल्लेख किया गया है।
A.
B.
C.
D.
Answer
A.The types of justice, liberty, equality and fraternity in that order has been mentioned in the preamble of constitution of India are-3,5,2, 1 Justice- social, economic and political; Liberty- thought, expression, belief, faith and worship; Equality - status and of opportunity; So the correct answer is option A.
A.जिस क्रम में न्याय, स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व के प्रकार भारत के संविधान की प्रस्तावना में उल्लिखित हैं, -3,5,2, 1 न्याय- सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक; स्वतंत्रता- विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, विश्वास और पूजा; समानता - स्थिति और अवसर की; इसलिए सही उत्तर विकल्प A है।