Question
Who was the Chief Justice of India when Public Interest litigation was introduced in the Indian Judicial system?
जब भारतीय न्यायिक प्रणाली में जनहित याचिका प्रारंभ की गई थी तो उस समय भारत के मुख्य न्यायाधीश कौन थे?
A.
B.
C.
D.
Answer
C.P.N. Bhagwati was the Chief Justice of India when Public Interest litigation was introduced in the Indian Judicial system.Justice Bhagwati has been referred to as the father of public interest litigation in India. Public Interest litigation was started in india in 1986. So the correct answer is option C.
C.पी.एन. भगवती भारत के मुख्य न्यायाधीश थे जब भारतीय न्याय व्यवस्था में जनहित याचिका दायर की गई थी। जस्टिस भगवती को भारत में जनहित याचिका के जनक के रूप में जाना जाता है । भारत में 1986 में जनहित याचिका शुरू की गई थी। इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।

View Similar questions (संबन्धित प्रश्न देखें)

Question
In how many ways Indian citizenship can be lost?
भारतीय नागरिकता कितने तरीकों सें खो सकती है?
A.
B.
C.
D.
Answer
C.The Citizenship Act, 1955, prescribes three ways of losing citizenship of India. 1.Renunciation 2.Deprivation 3.Termination So the correct answer is option C.
C.नागरिकता अधिनियम, 1955, भारत की नागरिकता खोने के तीन तरीकों को निर्धारित करता है। 1.स्वयं त्यागकर 2.दूसरे देश की नागरिकता लेने पर 3.जालसाजी करके नागरिकता लेने पर या देशद्रोह साबित होने पर इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।
Question
How many fundamental duties are noted in the Constitution of India?
भारत के संविधान में कितने मौलिक कर्तव्यों का उल्लेख किया गया है?
A.
B.
C.
D.
Answer
B.There are 11 fundamental duties are noted in the Constitution of India. The 11th was added in 86th Amendment act, 2002 and it gives Right to Education. It says the every child should get compulsory education between the age of 6 to 14 years. So the correct answer is option B.
B.भारत के संविधान में 11 मौलिक कर्तव्यों का उल्लेख किया गया है। 86 वें संशोधन अधिनियम, 2002 में 11 वाँ जोड़ा गया, जो शिक्षा का अधिकार देता है। इसमें कहा गया है कि प्रत्येक बच्चे को अनिवार्य शिक्षा 6 से 14 वर्ष की उम्र में मिलनी चाहिए। इसलिए सही उत्तर विकल्प B है।
Question
Who among the following is empowered to establish the interstate council?
निम्नलिखित में से कौन अंतर्राज्य परिषद स्थापित करने के लिए सशक्त है?
A.
B.
C.
D.
Answer
B.President is empowered to establish the interstate council in Article 263 of the Constitution of India.It is a non-permanent constitutional body. So the correct answer is option B.
B.भारत के संविधान के अनुच्छेद 263 में अंतरराज्यीय परिषद की स्थापना के लिए राष्ट्रपति को अधिकार दिया गया है। यह एक गैर-स्थायी संवैधानिक निकाय है। इसलिए सही उत्तर विकल्प B है।
Question
Supreme Courts judgement regarding homosexuality is related to which of the following?
समलैंगिकता के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय निम्नलिखित में से किससे संबंधित है?
A.
B.
C.
D.
Answer
A.Supreme Courts judgement regarding homosexuality is related to Section 377 of IPC. In 2018, the Supreme Court of India decriminalised homosexuality by declaring Section 377 of the Indian Penal Code unconstitutional in respect of consensual homosexual sex between adults.Homosexuality was never illegal or a criminal offence in ancient Indian and traditional codes but was criminalised by the British during their rule in India. So the correct answer is option A.
A.समलैंगिकता के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आईपीसी की धारा 377 से संबंधित है। 2018 में, भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने वयस्कों के बीच सहमति से समलैंगिक यौन संबंध के संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 377 को असंवैधानिक घोषित करके समलैंगिकता को हतोत्साहित किया। प्राचीन भारतीय और पारंपरिक संहिताओं में समलैंगिकता कभी भी अवैध या आपराधिक अपराध नहीं था, लेकिन भारत में अंग्रेजों के शासन के दौरान अपराध था । इसलिए सही उत्तर विकल्प A है I