Question
Under whose jurisdiction does the Andaman and Nicobar Islands come under the Union Territory?
केंद्र शासित प्रदेशो में अंडमान निकोबार द्वीप समूह किसके न्यायाधिकर क्षेत्र में आता है ?
A.
B.
C.
D.
Answer
C. Andaman and Nicobar Islands comes under the jurisdiction of the Kolkata High Court. Andaman and Nicobar Islands is a union territory of India. It is located in the Indian Ocean to the south of the Bay of Bengal. The Andaman and Nicobar Islands are made up of about 572 small and large islands, out of which only a few islands are inhabited by people. Its capital is Port Blair. It was taken over by Japan during the Second World War. For some time this island was also under the Azad Hind Fauj of Netaji Subhas Chandra Bose. Very few people would know that for the first time anywhere in the country, the tricolor was hoisted in Port Blair itself. Here Netaji Subhash Chandra Bose hoisted the tricolor flag by taking down the Union Jack on 30 December 1943. Therefore, on 30th December every year a grand program has been started by the Andaman and Nicobar Administration. General Lokanathan was also the governor here. After independence from the British government in 1947, it became a union territory of India. This place was used by the British rule to keep the revolutionaries away from India under repressive policies in the freedom movement. That is why this place was infamous among the agitators as Kala Pani. A separate prison, the Cellular Jail, was constructed in Port Blair for imprisonment. So the correct answer is option C.
C. अंडमान और निकोबार द्वीप समूह कोलकाता उच्च न्यायालय के अधिकार क्षेत्र में आता है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह भारत का एक केंद्र शासित प्रदेश है। यह हिंद महासागर में बंगाल की खाड़ी के दक्षिण में स्थित है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह लगभग 572 छोटे और बड़े द्वीपों से मिलकर बना है, जिनमें से कुछ ही द्वीपों में लोगों का निवास है। यहाँ की राजधानी पोर्ट ब्लेयर है। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जापान ने इसे अपने कब्जे में ले लिया था। कुछ समय तक यह द्वीप नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद फौज के अधीन भी रहा। बहुत कम लोगों को पता होगा कि देश में पहली बार पोर्ट ब्लेयर में ही तिरंगा फहराया गया था. यहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने 30 दिसंबर 1943 को यूनियन जैक को उतारकर तिरंगा झंडा फहराया था। इसलिए हर साल 30 दिसंबर को अंडमान और निकोबार प्रशासन द्वारा एक भव्य कार्यक्रम शुरू किया गया है। जनरल लोकनाथन यहां के गवर्नर भी थे। 1947 में ब्रिटिश सरकार से आजादी के बाद यह भारत का केंद्र शासित प्रदेश बन गया। स्वतंत्रता आंदोलन में दमनकारी नीतियों के तहत क्रांतिकारियों को भारत से दूर रखने के लिए ब्रिटिश शासन द्वारा इस स्थान का उपयोग किया गया था। इसीलिए आंदोलनकारियों के बीच यह स्थान काला पानी के नाम से बदनाम था। कारावास के लिए पोर्ट ब्लेयर में एक अलग जेल, सेलुलर जेल का निर्माण किया गया था। इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।