Question
Who invented the nano patch for the polio vaccine?
पोलियो टीके के लिए नैनोपैच का आविष्कार किसने किया?
A.
B.
C.
D.
Answer
C.The nano patch for the polio vaccine is invented by Mark Kendall. Mark Kendall said that inoculating through the nano patch directly targets the immune cells in the outer layer of the skin instead of the muscle. Therefore it is more effective than common vaccines. The nano patch overcomes many of the drawbacks of needle-delivered vaccines, such as the unintentional fear of needles or the possibility of infection with contaminated needles. Thousands of tiny injectors in patches release the vaccine, which is then applied to the skin in a dry form. He explains that “the launchers in the nano patches work on the skin's immune system. We target these cells from the surface of the skin. which is equal to the width of the hair. Kendall explained that "half of the vaccines in Africa do not work because of refrigerator failure." He told that the vaccine made from nano patches can be kept at a temperature of 23 °C for a year. The polio vaccine was discovered by John Salk. So the correct answer is option C.
C.पोलियो वैक्सीन के लिए नैनो पैच का आविष्कार मार्क केंडल ने किया था। मार्क केंडल ने कहा कि नैनो पैच के माध्यम से टीका लगाने से मांसपेशियों के बजाय त्वचा की बाहरी परत में प्रतिरक्षा कोशिकाओं को सीधे लक्षित किया जाता है। इसलिए यह आम टीकों की तुलना में अधिक प्रभावी है। नैनो पैच सुई द्वारा दिए गए टीकों की कई कमियों को दूर करता है, जैसे कि सुइयों का अनजाने में डर या दूषित सुइयों से संक्रमण की संभावना। पैच में हजारों छोटे इंजेक्टर वैक्सीन छोड़ते हैं, जिसे बाद में त्वचा पर सूखे रूप में लगाया जाता है। वह बताते हैं कि "नैनो पैच में लॉन्चर त्वचा की प्रतिरक्षा प्रणाली पर काम करते हैं। हम इन कोशिकाओं को त्वचा की सतह से लक्षित करते हैं। जो बालों की चौड़ाई के बराबर है। केंडल ने समझाया कि "अफ्रीका में आधे टीके रेफ्रिजरेटर की विफलता के कारण काम नहीं करते हैं।" उन्होंने बताया कि नैनो पैच से बनी वैक्सीन को 23 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर एक साल तक रखा जा सकता है l पोलियो के टीके की खोज जॉन साल्क ने की थी। इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।

View Similar questions (संबन्धित प्रश्न देखें)

Question
Nilgiri mountain represents which of the following type of mountain?
नीलगिरि पर्वत निम्न में से किस प्रकार के पर्वत का प्रतिनिधित्व करता है?
A.
B.
C.
D.
Answer
C.Nilgiri mountain is formed as a result of erosion of residual mountain rocks, so it is an example of the residual mountain. Some part of the Nilgiri mountain range also comes in Tamil Nadu, Karnataka, and Kerala. The highest peak here is Doddabetta with a total height of 2637 meters. 'Nilgiri mountain' is also known as 'The Queen of Hills' or 'Blue Mountains'. Nilgiri Hills is a part of the Nilgiri Biosphere Reserve. This Biosphere Reserve is an International Biosphere Reserve and a part of UNESCO's World Network of Biosphere Reserves. It is the first Biosphere Reserve in India, which was established in the year 1986. Mudumalai Wildlife Sanctuary, Wayanad Wildlife Sanctuary, Bandipur National Park, Nagarhole National Park, Mukurthi National Park, and Silent Valley lie within this protected area. So the correct answer is option C.
C.नीलगिरि पर्वत का निर्माण अवशिष्ट पर्वतीय चट्टानों के अपरदन के फलस्वरूप हुआ है, अतः यह अवशिष्ट पर्वत का उदाहरण है। नीलगिरि पर्वत श्रृंखला का कुछ भाग तमिलनाडु, कर्नाटक और केरल में भी आता है। यहां की सबसे ऊंची चोटी डोड्डाबेट्टा है जिसकी कुल ऊंचाई 2637 मीटर है। 'नीलगिरी पर्वत' को ‘द क्वीन ऑफ हिल्स’ या ‘ब्लू माउंटेंस’ के नाम से भी जाना जाता है। नीलगिरि हिल्स नीलगिरि बायोस्फीयर रिजर्व का एक हिस्सा है। यह बायोस्फीयर रिजर्व एक अंतर्राष्ट्रीय बायोस्फीयर रिजर्व है और यूनेस्को के वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ बायोस्फीयर रिजर्व का एक हिस्सा है। यह भारत का पहला बायोस्फीयर रिजर्व है, जिसकी स्थापना वर्ष 1986 में की गई थी। मुदुमलाई वन्यजीव अभयारण्य, वायनाड वन्यजीव अभयारण्य, बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान, नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान, मुकुर्ती राष्ट्रीय उद्यान और साइलेंट वैली इस संरक्षित क्षेत्र में स्थित हैं। इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।
Question
If 9th February is Thursday in the year 2012, then what will be the date on 9th February of 2016?
अगर वर्ष 2012 में 9 फरवरी को गुरुवार होता है, तो वर्ष 2016 की 9 फरवरी को कौन-सा वार होगा?
A.
B.
C.
D.
Answer
C.There are 4 years from 9 February 2021 to 9 February 2016. Total number of days in 4 years = 365 * 4 = 1460 2012 is a leap year and 2016 is also a leap year but there will be no effect of leap year on 9th February of 2016, as this effect falls after 29th February of the month of February. 2012 is leap year so total number of days = 1460 +1 = 1461 Number of odd days in 1461 = 1461 / 7 remaining days = 5 Hence the day of 9th February 2016 = Thursday + 5 = Tuesday So the correct answer is option C.
C.9 फरवरी 2021 से 9 फरवरी 2016 तक 4 वर्ष होते है। 4 वर्ष में कुल दिनों की संख्या = 365 *4 = 1460 2012 लीप वर्ष है और 2016 भी लीप वर्ष है परन्तु 2016 की 9 फरवरी पर लीप वर्ष का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योकि यह प्रभाव फरवरी माह की 29 फरवरी के बाद पड़ता है। 2012 लीप वर्ष है अतः कुल दिनों की संख्या = 1460 +1 = 1461 1461 में विषम दिनों की संख्या = 1461 / 7 शेष दिन = 5 अतः 9 फरवरी 2016 का दिन = गुरूवार + 5 = मंगलवार इसलिए सही उत्तर विकल्प C है।
Question
Which of the following union territory has a Legislative Assembly?
निम्न में से किस संघ राज्य क्षेत्र में विधानसभा है?
A.
B.
C.
D.
Answer
D.There are total nine union territories in India. Delhi Daman and Diu Andaman and Nicobar Islands Chandigarh Dadra and Nagar Haveli Lakshadweep Puducherry Jammu and Kashmir, Ladakh - Declared on 5 August 2019 and effective 31 October 2019. Only three Union Territories in India have a Legislative Assembly - Delhi, Puducherry, Jammu, and Kashmir. The maximum number of assembly seats is in Uttar Pradesh, which is 403. Hence the correct answer is option D.
D.भारत में कुल नौ केंद्र शासित प्रदेश हैं। दिल्ली दमन और दीव अंडमान व नोकोबार द्वीप समूह चंडीगढ़ दादरा और नगर हवेली लक्षद्वीप पुदुचेरी जम्मू और कश्मीर, लद्दाख - 5 अगस्त 2019 को घोषित और 31 अक्टूबर 2019 से प्रभावी। भारत में केवल तीन केंद्र शासित प्रदेशों में विधान सभा है - दिल्ली, पुडुचेरी, जम्मू और कश्मीर। विधानसभा सीटों की सर्वाधिक संख्या उत्तर प्रदेश में है, जो 403 है। इसलिए सही उत्तर विकल्प D है।
Question
When people disturb the public peace by fighting in a public place, it is called 'revolting'. If there is a minimum number of people, such a situation will be called rebellion?
जब लोग सार्वजनिक स्थान पर लड़ते हुए सार्वजनिक शांति को भंग करते हैं, तो उसे 'बलवा करना' कहा जाता है। न्यूनतम कितने लोगों के होने पर ऐसी स्थिति को बलवा करना कहा जाएगा?
A.
B.
C.
D.
Answer
A.The number of persons to rebel must be at least five. The provision of punishment for rebellion has been made under section 147. “Whoever is guilty of causing a riot, shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to two years, or with fine, or with both”. For the offense of rebellion to be constituted, the following essential elements must be present – 1. The number of persons is five or more than five 2. They all come together to advance a common cause 3. That the assembly against or any member thereof has used force or violence in furtherance of that object So the correct answer is option A.
A.बलवा करने वाले व्यक्तियों की संख्या कम से कम पांच होनी चाहिए। बलवा की सजा का प्रावधान धारा 147 के तहत किया गया है। "जो कोई भी दंगा भड़काने का दोषी है, उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास, जिसे दो साल तक बढ़ाया जा सकता है, या जुर्माना, या दोनों के साथ दंडित किया जाएगा"। बलवा के अपराध के गठन के लिए निम्नलिखित आवश्यक तत्व मौजूद होने चाहिए - 1. व्यक्तियों की संख्या पाँच या पाँच से अधिक है l 2. वे सभी एक समान उद्देश्य को आगे बढ़ाने के लिए एक साथ आते हैं l 3. कि सभा या उसके किसी सदस्य ने उस वस्तु को आगे बढ़ाने में बल या हिंसा का प्रयोग किया है l इसलिए सही उत्तर विकल्प A है।